कोरोना वायरस को लेकर जनगणना 2021 का पहला चरण स्थगित

189 views

कोविड-19 का प्रकोप सिर्फ लोगों के जीवन ही नहीं सरकारी कामकाज को भी प्रभावित कर रहा है. देश की अगली जनगणना, 2021 में होनी है. जिससे ये पता चलेगा की देश की जनसँख्या कितनी है. कितने शिक्षित हैं, कितने अशिक्षित, कौन क्या कार्य करता है. किसकी कितनी संपत्ति है आदि.

जनगणना 2021 को दो चरणों में बांटा गया था; पहला चरण : मकान सूचीकरण और मकान गणना जो अप्रैल, 2020 से सितंबर, 2020 में, तथा दूसरा चरण : जनसंख्या गणना जो 9 फरवरी 2021 से 28 फरवरी, 2021 में.. जनगणना 2021 के पहले चरण के साथ असम के आलावा सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में एनपीआर यानी राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर का अपडेशन भी होना था.

कोविड-19 के इस बढ़ते प्रकोप के कारण भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने सामाजिक सावधानी सहित विभिन्न एहतियाती उपायों के लिए गाइड लाइन्स जारी की है. इस महामारी के चलते केंद्र सरकार तथा राज्य सरकारों ने राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में हाई अलर्ट व लॉकडाउन भी घोषित कर दिया है.

कोविड-19 महामारी में व्यक्तिगत व सामाजिक दूरी बनाना आवश्यक है, इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुए जनगणना 2021 के प्रथम चरण और एनपीआर का अपडेशन तथा फील्ड से जुडे अन्य कार्य, जो कि 01 अप्रैल, 2020 से शुरू होने थे, उन्हें आने वाले अगले आदेश तक स्थगित किया गया है.

Related Posts

About The Author

Add Comment